भजन-कीर्तन / भागवत कथा

रूप सिंह देव और उनके गुरु अंगद देव जी की छोटी सी कथा

जब गुरु अंगद देव जी ने रूप सिंह बाबा से यह कहा कि वह उनसे कुछ भी मांग सकते हैं तो बाबा रूप सिंह जी ने क्या मांगा यह इस छोटी सी ऑडियों में दर्शाया गया है।

मित्रों आज हम सभी की यही समस्या है कि हमारे में सब्र नहीं है। मालिक के दिए का शुकर नहीं है।

Facebook Comments

Leave a Comment

Your email address will not be published.

You may also like