भजन-कीर्तन / भागवत कथा

सुहागिनों ने घरों में ही मनाया वट सावित्री का पर्व

सुहागिनों ने घरों में ही मनाया वट सावित्री का पर्व
सुहागिनों ने शुक्रवार को वट सावित्री का व्रत रखकर अपने पति की दीर्घायु के लिए कामना की। लॉकडाउन के चलते सुहागिनों ने अपने घरों में ही सत्यवान सावित्री की जहां कथा सुनी, वहीं ईश्वर से भी कामना की कि ईश्वर उनके पति को दीर्घायु दे और कोरोना महामारी से निपटने की सभी को शक्ति भी दे। गौरतलब है कि सावित्री ने प्राचीन काल में अपने पति सत्यवान के प्राण वापिस लाने के लिए यमराज तक से भी भिड़ गई थी और पति के शव को वट वृक्ष के नीचे रखकर यमराज से आग्रह किया कि उनके पति को जीवित किया जाए। यमराज को भी पतिव्रता सावित्री के सामने झुकना पड़ा था और उसके पति सत्यवान को जीवित भी कर दिया था। तभी से सुहागिनें व्रत रखकर वट वृक्ष की पूजा करती आ रही हैं, लेकिन इस बार कोरोना के चलते लॉकडाउन लगा हुआ है। इसलिए सुहागिनें वट वृक्ष की पूजा तो नहीं कर पाई, लेकिन उन्होंने अपने घरों पर ही कथा सुनकर इस पर्व को मनाया।

Supported by Sh. Ashok Chauhan Sr. Journalist

Facebook Comments

You may also like